गुरुवार, 22 अप्रैल 2010

आज का विचार

 

भलाई

बुराई करने के अवसर तो दिन में सौ बार आते हैं, पर भलाई का अवसर वर्ष में एक बार आता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपने सुझाव और मूल्यांकन से हमारा मार्गदर्शन करें