मंगलवार, 13 सितंबर 2011

हमारी हिंदी

रघुवीर सहायरघुवीर सहाय की कविताएं –5

हमारी हिंदी

हमारी हिंदी एक दुहाजू की नयी बीबी है
बहुत बोलनेवाली बहुत खानेवाली बहुत सोनेवाली

गहने मढ़ाते जाओ
सर पर चढ़ाते जाओ

वह मुटाती जाये
पसीने से गन्धाती जाये घर का माल मैके पहुंचाती जाये

पड़ोसिनों से जले
कचरा फेंकने को लेकर लड़े

घर से तो खैर निकलने का सवाल ही नहीं उठता
औरतों को जो चाहिए घर ही में है

एक महाभारत है एक रामायण है

तुलसीदास की भी राधेश्याम की भी
एक नागिन की स्टोरी बमय गाने
और एक खारी बावली में छपा कोकशास्त्र
एक खूसट महरिन है जिसके प्राण अकच्छ किये जा सकें
एक गुचकुलिया-सा आंगन कई कमरे कुठरिया एक के अंदर एक
बिस्तरों पर चीकट तकिये कुरसियों पर गौंजे हुए उतारे कपड़े
फर्श पर ढंनगते गिलास
खूंटियों पर कुचैली चादरें जो कुएं पर ले जाकर फींची जायेंगी

घर में सबकुछ है जो औरतों को चाहिए
सीलन भी और अंदर की कोठरी में पांच सेर सोना भी
और संतान भी जिसका जिगर बढ़ गया है
जिसे वह मासिक पत्रिकाओं पर हगाया करती है
और जमीन भी जिस पर हिंदी भवन बनेगा

कहनेवाले चाहे कुछ कहें
हमारी हिंदी सुहागिन है सती है खुश है
उसकी साध यही है कि खसम से पहले मरे
और तो सब ठीक है पर पहले खसम उससे बचे
तब तो वह अपनी साध पूरी करे।

11 टिप्‍पणियां:

  1. क्या खूब! पढ़वाने के लिए धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  2. सोचने पर मजबूर करती प्रस्तुति ..कटु सत्य है

    उत्तर देंहटाएं
  3. कमाल का सच.. नंगा सच और सच की ऐसी शब्दावलि.. असंभव.. स्तब्ध करती है और हिन्दी की अवस्था पर करारा व्यंग्य भी करती है!!
    एक महान कवि की महान रचना!!

    उत्तर देंहटाएं
  4. हिंदी की नग्न हकीकत . एक झन्नाटेदार तमाचे की तरह कविता

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...वाह! सटीक और सार्थक

    उत्तर देंहटाएं
  6. सटीक प्रस्तुति...वाह!

    हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनायें...

    उत्तर देंहटाएं
  7. और तो सब ठीक है पर पहले खसम उससे बचे
    तब तो वह अपनी साध पूरी करे।...
    व्यंग्य में भी सीख है!
    आभार!

    उत्तर देंहटाएं
  8. सार्थक व सटीक लेखन ...प्रस्‍तुति के लिये आभार

    । हिन्‍दी दिवस की शुभकामनाएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  9. वंदना गुप्ता जी की तरफ से सूचना

    आज 14- 09 - 2011 को आपकी पोस्ट की चर्चा यहाँ भी है .....


    ...आज के कुछ खास चिट्ठे ...आपकी नज़र .तेताला पर
    ____________________________________

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत खूब ..पढवाने का आभार.

    उत्तर देंहटाएं

आप अपने सुझाव और मूल्यांकन से हमारा मार्गदर्शन करें